NEET-UG 2024 के पेपर लीक किये जाने वाले अपराधियों की गिरफ्तारी

NEET-UG 2024: आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई की जाएगी जिसमें,  NEET-UG 2024 परीक्षा को रद्द करने कि संभावना की जा सकती है। पेपर लीक के आरोपों के बाद एक मामला और दाखिल किया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने Centre and  National Testing Agency (NTA) को निर्देश दिया है कि NEET-UG 2024  के exam  को किसी भी अनियमितता के बिना तैयार  किया जाए । 

जाली दस्तावेज़ जमा करने पर High Court ने लगाई NET Candidate को डांट

Allahabad High Court ने एक NET candidate को डांट लगाई, जो  एनईईटी के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा था। उसकी अपील खारिज कर दी गई थी, क्योंकि उस पर जाली दस्तावेज़ जमा करने का आरोप था, जिसकी वजह से उसकी परीक्षा पुस्तिका रद्द कर दी गई।

High Court ने  कहा अगर किसी भी तरह की गड़बड़ होती है, तो उसे पूरी तरह से सुधारा जाना चाहिए, चाहे  वह  गड़बड़ 0.001 प्रतिशत ही क्यों न हो। न्यायमूर्ति विक्रम नाथ और एसवीएन भट्टी की अवकाश पीठ ने इस बारे में कहा है कि इन मामलों को किसी भी तरह से ignore नहीं किया जाना चाहिए।

इसके अलावा, Education Ministry ने पटना में NEET (UG) परीक्षा-2024 के आयोजन में हुई किसी भी कथित अनियमितता के संबंध में बिहार पुलिस से एक व्यापक रिपोर्ट का अनुरोध किया है।

बुधवार को जारी एक बयान में, मंत्रालय ने स्पष्ट किया कि NEET (UG) – 2024 के मुद्दे के संबंध में अनुग्रह अंकों के आवंटन के संबंध में चिंताओं को पहले ही पूरी तरह से संबोधित किया जा चुका है।

National Eligibility-cum-Entrance Test-Undergraduate (NEET-UG) 2024 के दौरान कथित प्रश्न पत्र के लीक होने, प्रतिपूर्व अंक देने और प्रश्नों में विसंगतियों के संबंध में उम्मीदवारों ने अपनी चिंता जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने 5 मई को नई याचिकाओं पर सुनवाई की घोषणा की है। 2024 के लिए, National Testing Agency (NTA) को नोटिस जारी किया गया है और दो हफ्ते के भीतर जवाब देने का आदेश दिया गया है। मौजूदा अपील के साथ इन नई अपीलों को भी संयोजित कर दिया गया है और 8 जुलाई को सुनवाई के लिए निर्धारित किया गया है।

5 मई को हुई परीक्षा के दौरान पेपर लीक औगलत  शिकायतों के बाद, NEET-UG 2024 के परिणामों को रद्द करने और दुबारा से परीक्षा का आयोजन करने की मांग करते हुए कई याचिकाएँ दायर की गई हैं। हाल ही में, NTA ने सुप्रीम कोर्ट को सूचित किया है कि उन्होंने परीक्षा में विवाद के कारण “अनुग्रह अंक” प्राप्त करने वाले 1,563 उम्मीदवारों के स्कोरकार्ड को अमान्य कर दिया गया है, जिससे उन्हें पुनः परीक्षा देने की अनुमति मिलेगी।परीक्षा 23 जून को आयोजित की जाएगी और परिणाम 30 जून से पहले घोषित किया जाएगा,” एनटीए ने Supreme Court को बताया है। Supreme Court ने पहले ही NEET-UG 2024 की काउंसलिंग पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था। NEET-UG परीक्षा, जो एनटीए द्वारा आयोजित की जाती है, देश भर के सरकारी और private medical colleges, MBBS, BDS और AYUSH  जैसे courses में प्रवेश के लिए मार्गदर्शन प्रदान करती है।  

स्थायी सबूतों के आधार पर NEET Candidate Anurag Yadav कि गिरफ़्तारी की गई

स्थायी सबूतों के आधार पर  गिरफ्तार किए गए  National Eligibility-cum-Entrance Test (NEET) Candidate Anurag Yadav ने यह कबूल किया की कि जो लीक question paper उन्हें मिला था वह असली question paper से पूरा पूरा मिलता है।

पेपर लीक करने के लिए 32 लाख रुपये की वसूली

बिहार के दानापुर नगर परिषद (दानापुर नगर परिषद) में नियुक्त एक Engineer के  22 वर्षीय भतीजे यादव, ने यह भी कबूल  किया है कि उनके रिश्तेदार सिकंदर प्रसाद यादवेंदु ने उन्हें बताया था कि परीक्षा के लिए सब तैयारियां कर ली गई थीं। 

पटना की पुलिस ने पेपर लीक मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें  से 4 Candidates का connection question paper के  लीक होने से बताया जा रहा है। आरोपियों ने पेपर को लीक करने के लिए 32 लाख रुपये लिए थे। Ministry of Education ने अनियमितताओं पर जांच की रिपोर्ट मांगी है।

परीक्षा की integrity से समझौता किया गया है

परीक्षा रद्द करने के बाद केंद्र ने कहा कि यह निर्णय Indian Cyber ​​Crime Coordination Centre (I4C) की National Cyber ​​Crime Threat Analysis Unit  के इनपुट के आधार पर लिया गया था। The Ministry of Education ने एक Press released में बताया, “ये इनपुट प्रथम दृष्टया संकेत देते हैं कि उपरोक्त परीक्षा की integrity से समझौता किया गया है।”  

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने मोदी सरकार की आलोचना की

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी इस मुद्दे पर उनकी चुप्पी पर सवाल उठाते हुए, प्रधान मंत्री मोदी की आलोचना करने के लिए ‘x’ का सहारा लिया।उन्होंने कहा, ”यह मोदी सरकार के अहंकार की हार है जिसके कारण उन्होंने हमारे युवाओं के भविष्य को रौंदने का घृणित प्रयास किया।” उन्होंने कहा कि नीट परीक्षा कब रद्द की जाएगी? उन्होंने केंद्र से NEET-UG “पेपर लीक” की भी जिम्मेदारी लेने को कहा। Opposition ने परीक्षा विवाद पर मोदी सरकार की आलोचना की है।

 

 

केंद्र ने बुधवार को घोषणा की कि 18 जून को आयोजित UGC NET परीक्षा रद्द कर दी गई है क्योंकि इसमें “समझौता” किया गया होगा।

चलिए अब हम ये समझ लेते हैं कि UGC NET exam है क्या?

UGC NET or National Eligibility Test  एक  national level का टेस्ट होता है, जो सहायक प्रोफेसरों की भर्ती, जूनियर रिसर्च फेलोशिप और PhD. में प्रवेश करने के लिए conduct  कराया जाता है।

 

NEET UG के लिए Eligibility criteria:

  • Minimum age 17 year’s होनी चाहिए, UG Candidates के लिए कोई ऊपरी age limit  नहीं है।
  • Physics, Chemistry, Biology/Biotechnology, and English में Individual  रूप से Pass होना ज़रूरी है।
  • Physics, Chemistry, and Biology/Biotechnology में minimum 50% marks होने चाहिए।

Image Source by: business-standard.com