Mundka Fire News: CM Kejriwal visits spot, announces compensation, orders for magisterial inquiry | मुंडका पहुंचे CM केजरीवाल ने किया मुआवजे का ऐलान, दिए मैजिस्ट्रेट जांच के आदेश


Image Source : PTI
Mundka fire: Delhi CM announces compensation, orders inquiry, NDRF personnel during rescue and relief work.

Mundka Fire News: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास स्थित उस कमर्शल बिल्डिंग का दौरा किया जहां शुक्रवार शाम आग लगने से 27 लोगों की मौत हो गई थी। केजरीवाल ने मुंडका पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लिया और घटना की मैजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए। साथ ही उन्होंने मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये एवं घायलों को 50-50 हजार रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की। बता दें कि प्रधानमंत्री राहत कोष से भी मुंडका अग्निकांड में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए 2-2 लाख रुपये और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये के मुआवजे का ऐलान हुआ था।

CM केजरीवाल ने जताया था हादसे पर दुख

सीएम अरविंद केजरीवाल ने इससे पहले शनिवार को इस बिल्डिंग में लगी आग के चलते हुए 27 लोगों की मौत पर शोक व्यक्त किया था और कहा था कि वह लगातार अधिकारियों के संपर्क में हैं। केजरीवाल ने ट्वीट किया था, ‘इस दुखद घटना के बारे में जानकर स्तब्ध हूं और पीड़ा में हूं। मैं अधिकारियों के लगातार संपर्क में हूं। हमारे बहादुर दमकलकर्मी आग को काबू में करने और जिंदगियों को बचाने की कोशिश में लगे हुए हैं।’

कंपनी के मालिक को गिरफ्तार किया गया
मुंडका की इस इमारत की दूसरी मंजिल से शनिवार को जो शव बरामद किए गए वे बुरी तरह जले हुए थे। दिल्ली फायर सर्विस के डायरेक्ट अतुल गर्ग के मुताबिक ऐसी आशंका है कि एसी में धमाका होने की वजह से आग लगी और बिल्डिंग को अपनी चपेट में ले लिया। आग इमारत की पहली मंजिल में लगी थी जहां CCTV कैमरे और राउटर बनाने का ऑफिस है। पुलिस उपायुक्त (बाहरी) समीर शर्मा ने बताया कि कंपनी के मालिक हरीश गोयल और उसके भाई वरुण गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बुरी तरह जले कई शव, पहचान मुश्किल
अधिकारियों के मुताबिक, सर्च ऑपरेशन में बिल्डिंग की दूसरी मंजिल से बुरी तरह जली हुई लाशें मिली हैं। ये लाशें इतनी बुरी तरह जल गई हैं कि पहचान करना मुश्किल हो रहा है। इस बीच कंपनी के मालिकों हरीश गोयल और विजय गोयल को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ IPC के सेक्शन 304 (गैर इरादतन हत्या), 308 (गैर इरादतन हत्या का प्रयास), 120 (दंडनीय अपराध को अंजाम देने की योजना छिपाने) और 34 (साझा मंशा) के तहत एक FIR दर्ज की गयी है। अधिकारियों ने बताया कि बिल्डिंग के सभी फ्लोर का इस्तेमाल यही कंपनी कर रही थी। बिल्डिंग के मालिक मनीष लाकड़ा पर भी केस दर्ज किया गया है। (रिपोर्टर: कुमार सोनू)





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.