Mohali RPG attack What is Rocket Propelled Grenade Which was used in Mohali attack punjab Intelligence Wing headquarter | क्या होता है रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड? जिसका मोहाली अटैक में किया गया इस्तेमाल


Image Source : AP
Rocket Propelled Grenade Shells

Mohali RPG attack : पंजाब (Punjab) के मोहाली (Mohali) में इंटेलिजेंस विंग के हेडक्वार्टर (Intelligence Wing headquarter) पर हुए हमले में रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (RPG) के इस्तेमाल ने सबको हैरान कर दिया है। हमले में RPG के इस्तेमाल से इस बात की संभावना बढ़ गई है कि यह एक आतंकी हमला हो सकता है। क्योंकि आमतौर होने वाले अपराधों में RPG जैसे हथियारों का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। 

रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (RPG) को कंधे पर रखकर इस्तेमाल किया जाता है। यह कंधे से दागा जाने वाला हथियार है। इसकी खूबी यह है कि इसे आम हथियारों की तरह आसानी से एक जगह से दूसरी जगह ले जा सकता है। RPG का इस्तेमाल अक्सर टैंकों पर हमले के लिए किया जाता है। इनकी मारक क्षमता भी घातक होती है। अफगानिस्तान युद्ध में बड़े पैमाने पर इसका इस्तेमाल किया गया थ। वहीं रूस-यूक्रेन युद्ध में भी यूक्रेन के सानिकों ने रूस की आर्मी का मुकाबला करने के लिए (RPG का इस्तेमाल कर रही है। रूस के कई टैंक भी RPG के हमले से नष्ट किए गए।

कुछ RPG ऐसे होते हैं जिन्हें दोबारा लोड किया जा सकता है। यानी वह दोबारा ग्रेनेड के साथ लोड करने योग्य होते हैं। जहां तक मारक क्षमता की बात है तो करीब 700 मीटर की दूरी से टैंक, बख्तरबंद गाड़ियों, हेलिकॉप्टर या विमान को भी उड़ाया जा सकता है। हल्के बखतरबंद वाहनों के खिलाफ भी आरपीजी बहुत प्रभावी है। 

दरअसल, कल देर शाम मोहाली के सेक्टर 77 में  इंटेलिजेंस विंग हेडक्वार्टर की बिल्डिंग पर अचानक धमाके से अफरा-तफरी मच गई। हालांकि इस धमाके में जानमाल का खासा नुकसान नहीं हुआ। इमारत की खिड़कियों को नुकसान पहुंचा है। शुरुआती जांच में हमले में आरपीजी के इस्तेमाल की बात सामने आई है। वहीं पंजाब पुलिस ने अभी तक इसे आतंकी हमला नहीं बताया है। मोहाली के एसपी का कहना है कि अभी सभी एंगल से इसकी जांच चल रही है। जांच के बाद ही स्पष्ट तौर पर कुछ कहा जा सकेगा।





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.