Mohali Blast: 5 arrested in case, police said – nexus between Babbar Khalsa and ISI | मोहाली ब्लास्ट केस में 5 गिरफ्तार, मिला ISI कनेक्शन, पुलिस ने दिया बड़ा बयान


Image Source : TWITTER.COM/PUNJABPOLICEIND
Punjab DGP VK Bhawra claimed the entire conspiracy behind the RPG attack case has been solved.

चंडीगढ़: पंजाब पुलिस ने मोहाली में स्थित अपने खुफिया विभाग के हेडक्वॉर्टर में RPG हमले के सिलसिले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इस मामले में आतंकवादी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल एवं पाकिस्तान की खुफिया ISI की सांठगांठ की बात कही है। पंजाब के DGP वी. के. भावरा ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि छठा आरोपी एक अन्य मामले में पुलिस हिरासत में है। उन्होंने कहा कि घटना के पीछे की साजिश का पता लगा लिया गया है और पाकिस्तान की ISI के इशारे पर आतंकी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल और गैंगस्टरों के बीच सांठगांठ का मामला सामने आया है।

‘हरविंदर सिंह रिंडा का करीबी है लखबीर’

पंजाब के DGP ने कहा कि मुख्य साजिशकर्ता तरनतारन निवासी लखबीर सिंह गैंगस्टर से आतंकवादी बने हरविंदर सिंह रिंडा का करीबी सहयोगी है। माना जाता है कि रिंडा अभी पाकिस्तान में है और वहीं से आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता है। भवरा ने कहा कि गिरफ्तार किए गए 5 आरोपियों में विस्फोट करने वालों को रहने का ठिकाना, साजो-सामान और हथियार मुहैया कराने वाले शामिल हैं। उन्होंने कहा कि रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (RPG) दागने में शामिल 3 लोग अभी भी वॉन्टेड हैं। DGP ने कहा कि इस मामले का एक आरोपी निशान सिंह पहले से ही किसी अन्य मामले में फरीदकोट पुलिस की हिरासत में है।

‘मोहाली केस में भी गिरफ्तार होगा निशान सिंह’
DGP ने कहा कि निशान सिंह को मोहाली केस में भी गिरफ्तार किया जाएगा। पंजाब के तरनतारन जिले का रहने वाला निशान सिंह कई आपराधिक मामलों का सामना कर रहा है, जिसमें से एक हत्या की कोशिश से जुड़ा हुआ है और दूसरा NDPS ऐक्ट के तहत है। बता दें कि सोमवार को आतंकियों ने मोहाली के सेक्टर 77 स्थित पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस विंग के हेडक्वॉर्टर पर रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड दाग दिया था। ब्लास्ट के कारण किसी को चोट तो नहीं आई लेकिन इमारत की एक मंजिल की खिड़की के शीशे टूट गए।





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.