MI vs KKR match result Kolkata beat Mumbai by 52 runs know the condition of the whole match MI vs KKR : कोलकाता ने मुंबई को 52 रन से हराया, जानिए पूरे मैच का हाल


Image Source : TWITTER/@IPL
Kolkata knight Riders

आईपीएल की पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस को एक और हार का सामना करना पड़ा है। अब कोलकाता नाइटराइडर्स ने मुंबई इंडियंस को 52 रन से हरा दिया। केकेआर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में नौ विकेट के नुकसान पर 165 रन बनाए थे और मुंबई इंडियंस के सामने जीत के लिए 166 रनों का टारगेट रखा। लेकिन मुंबई इंडियंस की पूरी टीम 20 ओवर भी नहीं खेल पाई और 17.3 ओवर में 113 रन ही बना सकी। इस तरह से टीम को एक और हार मिली। इस जीत के साथ ही केकेआर के अब दस अंक हो गए हैं। मुंबई इंडियंस अभी भी प्वाइंट्स टेबल में नंबर दस पर बनी हुई है। उधर केकेआर इस बड़ी जीत के साथ अंक तालिका में सातवें नंबर पर पहुंच गई है। केकेआर का अभी भी प्लेआफ में जाने का चांस बना हुआ है। 

इससे पहले जब मुंबई इंडियसं की टीम बल्लेबाजी के लिए मैदान में उतरी तो टीम की शुरुआत​ फिर खराब रही। टीम के कप्तान रोहित शर्मा केवल दो रन बनाकर आउट हो गए, त​ब टी का स्कोर केवल दो ही रन था। इसके बाद ईशान किशन ने तिलक वर्मा के साथ मिलकर टीम को इस संकट से निकालने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं  हो पाए। जब टीम का स्कोर 32 रन था, तभी तिलक वर्मा छह रन बनाकर चलते बने। रमनदीप और ईशान किशन ने स्कोर को 50 के आगे तक पहुंचाया, टीम के जब 69 रन हो चुके थे, तभी रमनदीप 12 रन बनाकर आउट हो गए। आते ही तेजी से रन बनाने वाले टिम डेविड भी 83 रन के स्कोर पर पवेलियन लौट गए। इसके बाद अपना अर्धशतक लगाने वाले ईशान किशन भी आउट हो गए। ईशान किशन ने 43 गेंद पर 51 रन की पारी खेली, वहीं एक छक्का और पांच चौके लगाए। इसके बाद भी लगातार विकट का गिरना जारी रहा और टीम संकट से बाहर निकल ही नहीं पाई। 

इससे पहले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने चार ओवर में दस रन देकर पांच विकेअ झटके। यही कारण रहा कि मुंबई इंडियंस ने कोलकाता नाइट राइडर्स को 165 रन पर रोक दिया। कोलकाता ने 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 165 रन बनाए और मुंबई को जीत के लिए 166 रन का लक्ष्य दिया। केकेआर की ओर से वेंकेटेश अय्यर ने 43 रन और नितीश राणा ने 43 ने धुंआधार पारी खेली। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी केकेआर टीम की शुरुआत शानदार रही। टीम की ओर से सलामी जोड़ी वेंकटेश अय्यर और अजिंक्य रहाणे ने पारी को आगे बढ़ाया। दोनों बल्लेबाजों ने पहले पावरप्ले में धुंआधार पारी खेली। हालांकि, गेंदबाज डेनियल सेम्स के पहले ओवर में बल्लेबाजों ने चार रन बटोरे। इसके बाद दोनों बल्लेबाज अपनी लय में दिखे और गेंदबाज मुर्गन अश्विन के ओवर में 12 रन बटोरे।

पहले ओवर में सेम्स ने 4 रन दिए, लेकिन उनके दूसरे ओवर में अय्यर ने चौथी गेंद पर एक छक्का जड़ा, जहां बल्लेबाजों ने 10 रन बटोरे। केकेआर ने तीन ओवर पर बिना विकेट खोए 26 रन बना लिए थे। इस दौरान बल्लेबाज गेंदबाजों पर हावी होते हुए दिख रहे थे। टीम की ओर से चौथा ओवर जसप्रीत बुमराह ने कराया, जहां बल्लेबाज सिर्फ पांच रन ही बटोर पाए, लेकिन पांचवा ओवर केकेआर के लिए लाभदायक साबित हुआ, जहां गेंदबाज रिले के ओवर में बल्लेबाजों ने 17 रन बटोरे। रिले ने चौथी गेंद वाइड फेंकी, जो विकेटकीपर से छूटते हुए सीधे बाउंड्री पर गई। इस दौरान अय्यर 20 गेंदों पर 31 रन बनाकर खेल रहे थे। वहीं, रहाणे 10 गेंद पर नौ रन बनाकर खेल रहे थे।

छठे ओवर में गेंदबाज कुमार कार्तिके को पहली सफलता मिली, जहां उन्होंने केकेआर को पहला झटका दिया। अय्यर शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे, वे गेंद को बाउंड्री के पार पहुंचाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन गेंद ज्यादा दूर न जाकर डेनियल सेम्स के हाथों चली गई। इस दौरान वेंकेटेश अय्यर 24 गेंदों पर चार छक्के और तीन चौके की मदद से 43 रन बनाकर आउट हुए। उनके बाद नितीश राणा क्रीज पर आए। छठे ओवर में बल्लेबाजों ने 16 रन बटोरे।

पहला पावरप्ले समाप्त होने तक केकेआर ने एक विकेट खोकर 64 रन बना लिए थे। हालांकि, अय्यर के जाने के बाद टीम का स्कोर धीमा हो गया, जो एक समय में अपनी रफ्तार पकड़े हुए था। टीम में सातवें, आठवें और नौवें ओवर पर मात्र 14 रन आए हालांकि, इसके बाद एक बार फिर बल्लेबाजों ने रन बनाने की लय को पकड़ा और पोलार्ड के दसवें ओवर पर नौ रन बटोरे, लेकिन गेंदबाज कार्तिके ने अपने ओवर में दूसरी सफलता हासिल की और केकेआर को दूसरा झटका दिया। उन्होंने रहाणे के विकेट की गिल्लियां बिखेर दीं और उन्हें वापस पवेलिय भेज दिया। इस दौरान उन्होंने 24 गेंदों पर 25 रन बनाए। उनके बाद कप्तान श्रेयस अय्यर क्रीज पर आए। राणा ने कार्तिके के ओवर की आखिरी दो गेंदों पर शानदार दो छक्के जड़े और ओवर में 13 रन बटोरे। इस दौरान टीम ने अपने 100 रन भी पूरे किए।

13वां ओवर पोलार्ड का बेहद महंगा साबित रहा। उन्होंने अपने ओवर में 17 रन दिए, जहां राणा ने दो छक्के और एक चौके के साथ ओवर को समाप्त किया। 13वें ओवर तक टीम का स्कोर 2 विकेट पर 123 रन था। 14वें ओवर पर मुर्गन अश्विन को पहली सफलता श्रेयस अय्यर के रूप में मिली। उन्होंने बल्लेबाज को विकेटकीपर ईशान किशन के हाथों कैच कराया। अय्यर आठ गेंदों पर सिर्फ छह रन ही बना सके। 15वां ओवर केकेआर के लिए दो झटके लेकर आया, जहां बुमराह ने पहले रसेल को वापस पवेलियन भेजा और दूसरा विकेट उन्होंने शानदार पारी खेल रहे राणा को किशन के हाथों कैच करा आउट किया। राणा ने इस दौरान 26 गेंदों पर चार छक्के और तीन चौके की मदद से 43 रन बनाए। अब क्रीज पर दोनों बल्लेबाज नए मौजूद थे।

एक तरफ रिंकू सिंह तो दूसरे छोर शेल्डॉन जैक्शन क्रीज पर थे। शुरुआती पांच विकेट गिरने के बाद टीम का स्कोर फिर से थमता हुआ दिखा, लेकिन रिंकू सिंह लगातार अपने बल्ले से संघर्ष कर रहे थे। उन्होंने 17वें ओवर में दो चौके लगाए और बल्लेबाजों ने 13 रन जोड़े। 17वें ओवर तक टीम का स्कोर पांच विकेट पर 156 रन था। बुमराह ने अपने तीसरे ओवर में मैच का रुख बदल दिया, उन्होंने ओवर में तीन विकेट झटके, जिसमें पहले जैक्शन को आउट किया इसके बाद बल्लेबाजी करने आए पैट कमिंस को अपना निशाना बनाया और सुनील नारायण को बिना खाता खोले वापस पवेलियन भेज दिया। 18वें ओवर पर केकेआर ने आठ विकेट गंवाकर 156 रन बना लिए थे। हालांकि, रिंकू सिंह क्रीज पर मौजूद थे और नए बल्लेबाज टिम साउदी ने पारी का मोर्चा संभाला। विकेट की तलाश में घूम रहे गेंदबाज डेनियल सेम्स ने 19वें ओवर में पहली सफलता हासिल की। उन्होंने साउदी को पोलार्ड के हाथों कैच करा वापस पवेलियन भेज दिया। 20वां ओवर बुमराह के हाथों में था, जहां उन्होंने पहली पांच गेंदें डॉट फेंकी और आखिरी पर सिंह ने गेंद को हिट करते हुए 1 रन लिया। इस दौरान केकेआर ने 20 ओवर में नौ विकेट खोकर 165 रन बनाए।





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.