Karnataka BJP MLA alleges he was asked to pay Rs 2500 crore to become CM | 2500 करोड़ रुपये में कर्नाटक का मुख्यमंत्री बनने की पेशकश की गई थी: बसनगौड़ा पाटिल यतनाल


Image Source : FACEBOOK.COM/BASANAGOUDABJP
Karnataka BJP MLA Basanagouda Patil Yatnal.

बेलगावी: कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के विधायक (Karnataka BJP MLA) बसनगौड़ा पाटिल यतनाल ने दावा किया है कि कुछ लोगों ने उनसे संपर्क कर 2,500 करोड़ रुपये (2500 crore to become CM) में राज्य के मुख्यमंत्री पद की पेशकश की है। हालांकि उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन कहा कि धोखाधड़ी करने वाली कुछ कंपनियां ऐसा करती हैं। यतनाल ने कहा, ‘राजनीति में एक बात जान लीजिये, झांसे में मत आइए। राजनीति में कई चोर मिलेंगे जो टिकट दिलाने, दिल्ली ले जाने, सोनिया गांधी, जेपी नड्डा से मिलवाने की बात कहते हैं। उन्होंने मेरे जैसे लोगों के साथ ऐसा किया है।’

‘कुछ कंपनियां टिकट दिलवाने का दावा करती हैं’

यतनाल ने कहा, ‘कुछ लोगों ने दिल्ली से मेरे पास आकर कहा कि वे मुझे मुख्यमंत्री बनवाएंगे और मुझे केवल 2500 करोड़ रुपये की व्यवस्था करनी है।’ उन्होंने गुरुवार को बेलगावी में एक कार्यक्रम में कहा कि उन्होंने उनके पास आए लोगों से पूछा कि क्या वे जानते हैं कि 2500 करोड़ रुपये कितने होते हैं और क्या ‘इन्हें एक कमरे या गोदाम में रखा जा सकता है।’ विधायक ने कहा कि धोखाधड़ी करने वाली ऐसी कुछ कंपनियां हैं जो टिकट दिलवाने का दावा करती हैं।

‘2500 करोड़ रुपये की व्यवस्था करने को कहा गया’
विजयपुरा शहर के विधायक ने कहा, ‘आडवाणी (लालकृष्ण), राजनाथ सिंह, अरुण जेटली के साथ वाजपेयी (अटल बिहारी वाजपेयी) की सरकार में काम करने वाला व्यक्ति होने के नाते मुझसे कहा गया कि मुझे मुख्यमंत्री बनाया जाएगा जिसके लिए मुझे 2500 करोड़ रुपये की व्यवस्था करनी है। उन्होंने मुझसे कहा कि वे मुझे नड्डा और अमित शाह के घर ले जाएंगे। मैं किसी से कह रहा था कि (विधानसभा) चुनाव आ रहा है और ऐसे लोग आते रहेंगे।’

‘मामला दर्ज कर इसकी जांच होनी चाहिए’
यतनाल के दावों पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डी. के. शिवकुमार ने मांग की कि मामले को गंभीरता से लिया जाना चाहिए और इस पर राष्ट्रीय स्तर पर बहस होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मामला दर्ज कर जांच होनी चाहिये।





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.