Increased number of devotees: उत्तराखंड में चारधाम के लिए बढ़ाई गई श्रद्धालुओं की संख्या, भारी भीड़ को देखते हुए लिया गया फैसला


Image Source : FILE PHOTO
Increased number of devotees for Chardham in Uttarakhand

Highlights

  • उत्तराखंड में चारधाम के लिए बढ़ाई गई श्रद्धालुओं की संख्या
  • भारी भीड़ को देखते हुए लिया गया फैसला

Increased number of devotees: उत्तराखंड में चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं की उमड़ रही भारी भीड़ को देखते हुए प्रत्येक धाम में प्रतिदिन दर्शन के लिए पूर्व निर्धारित अधिकतम संख्या में एक हजार की बढ़ोतरी की गयी है। प्रदेश के उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र में स्थित चार धाम- बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री, में पहले के मुकाबले अब प्रतिदिन एक हजार ज्यादा श्रद्धालु मंदिरों में दर्शन के लिए जा पाएंगे। फिलहाल यह व्यवस्था यात्रा सीजन के शुरुआती 45 दिनों के लिए की गयी है। 

अधिकारियों ने यहां बुधवार को बताया कि सरकार ने इस संबंध में अपने पिछले आदेश में संशोधन करते हुए बदरीनाथ में दर्शन के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या प्रतिदिन 16000, केदारनाथ के लिए 13000, गंगोत्री के लिए 8000 और यमुनोत्री के लिए 5000 तय कर दी है। इससे पहले, बदरीनाथ के लिए यह सीमा प्रतिदिन 15,000, केदारनाथ के लिए 12,000, गंगोत्री के लिए 7,000 और यमुनोत्री के लिए 4000 थी। कोविड 19 के कारण पिछले दो साल बाधित रही चारधाम यात्रा में इस बार श्रद्धालु बड़ी संख्या में आ रहे हैं।

उनकी सुविधा के मद्देनजर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रतिदिन दर्शनार्थियों की संख्या की सीमा में बढोत्तरी के प्रशासन को निर्देश दिए थे। बता दें, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट तीन मई को खुले थे, जबकि केदारनाथ के छह मई और बदरीनाथ के आठ मई को खुले थे। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, नौ मई तक 20 लाख से ज्यादा तीर्थयात्री चार धामों के दर्शन कर चुके हैं। 





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.