Hyderabad Honor Killing victim says want to kill my brother same way he murdered nagaraju


Image Source : FILE PHOTO
Hyderabad Honor Killing victim with deceased husband Nagaraju

Highlights

  • हैदराबाद में दिल दहलाने वाली ऑनर किलिंग
  • बीच सड़क रॉड और चाकू से साले ने की हत्या
  • हिंदू युवक ने मुस्लिम लड़की से की थी शादी

Hyderabad Honor Killing: हैदराबाद में दिल दहलाने वाला ऑनर किलिंग का गुरुवार को मामला सामने आया। यहां एक मुस्लिम लड़की से शादी को लेकर एक हिंदू युवक की बरेहमी से हत्या कर दी गई थी। घटना हैदराबाद के सरूरनगर की है, जहां नागराजू नाम के युवक को उसके ही साले ने बीच सड़क पर रॉड और चाकू मारकर हत्या कर दी थी। संदिग्ध मामले में गिरफ्तार दो आरोपियों को शुक्रवार को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया वहीं तेलंगाना की राज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन ने इस सनसनीखेज मामले में राज्य सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

“ब्रेन बाहर आने तक मारा”

मामले के एक दिन बाद पीड़िता ने इंडिया टीवी से खास बातचीत में कहा कि मेरे राज को मेरे भाई ने रॉड से तब तक मारा जब तक उनका ब्रेन (दिमाग) बाहर नहीं आ गया। 15-20 मिनिट तक उन्हें मारा लेकिन वहां खड़े लोगों में से किसी ने मदद नहीं की। सब दूर खड़े होकर वीडियो बना रहे थे लेकिन जान बचाने के लिए कोई आगे नहीं आया।

 
मृतक नागराजू की पत्नी अशरीन सुल्ताना ने कहा, “मैंने अपने भाई से कहा कि हम दोनों को जुदा करना चाहते हो तो मैं उसे छोड़ दूंगी, मेरे राजू को जान से मत मारो, आपके पैर पड़ूंगी, रिक्वेस्ट किया लेकिन मेरा भाई नहीं माना। मेरे राजू का सिर फट जाने के बाद भी इस शक में कि वो अभी जिंदा है, उसे लगातार मारते गए और 30-35 बार रॉड से मारते गए”
 
शादी को हुए थे 3 महीने-

नागराजू की पत्नी ने बताया कि हम दोनों एक ही क्लास में साथ पढ़ते थे। 10 साल से एक दूसरे को प्यार करते थे। 31 जनवरी को हमने शादी की थी। हमारी शादी को सिर्फ 3 महीने ही हुए थे। उन्होंने आगे बताया कि मेरा भाई इसके खिलाफ था। उसको लगा कि मैं मुस्लिम हूं, हिन्दू से शादी नहीं कर सकती। उसने कहा था कि ऐसा करोगी तो दोनों को जान से मार दूंगा।
 
पीड़िता को 3 घंटे तक पीटा-

अशरीन ने इंडिया टीवी को बताया, “शादी के बाद मुझे इस बात का डर था कि हम पर अटैक होगा लेकिन राजू ने कहा कि 1-2 साल में सब ठीक हो जाएगा। मैं जब मेरी मां को याद करके रोती थी तो राजू मुझसे कहते कि कुछ समय में परिवार अपने पास आ जायेगा। पीड़िता ने आगे कहा, “मैंने अपनी अम्मी को नागराजू के बारे में बताया था। मेरे अब्बू नहीं है इसीलिए अम्मी ने कहा कि फैसला भाई ही लेगा। उस दिन जब भाई को पता चला तो नाराज हो गया सुबह 4 बजे से 7 बजे तक मुझे बहुत पीटा और मुझे फांसी तक देने लगा।”

“मैं भी भाई को उसी तरह मारना चाहती हूं”

अशरीन सुल्ताना ने आगे बताया कि इतना सब होने के बाद हमने घर वालों को बिना बताए शादी कर ली और सरूरनगर में रहने लगे। मुझे नहीं पता कि हमारा पता हमारे भाई को कैसे चला। अशरीन ने आगे कहा, “वो मेरा भाई है तो मैं भी उसकी बहन हूं। मेरे बदन में भी वही खून है, मुझे इतना गुस्सा है कि मैं भी उसे इसी तरह सड़क के बीचोंबीच मारना चाहती हूं जैसे उसने मेरे राज को मारा। मैं अपने घर नहीं जाना चाहती, यहां रहकर मेरे पति के परिवार की देखभाल करना चाहती हूं। इसके लिए मुझे एक सरकार या कोई भी एक नौकरी दिलाने में मदद करे, मैं यही चाहती हूं।”





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.