तहसीलदार ने कहा कलेक्टर की फेयरवेल पार्टी के थे रुपए

जयपुर एसीबी के शिकंजे में आए भीलवाड़ा के तहसीलदार लालाराम ने घर में मिले 5 लाख रुपयों को लेकर खुलासा किया है। पूछताछ में तहसीलदार ने बताया कि उसके घर से एसीबी ने जो रकम जब्त की थी वह पूर्व कलक्टर की फेयरवेल पार्टी का फंड था। तहसीलदार ने कहा कि 5 लाख रुपए में से 2 लाख रुपए पूर्व कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते की विदाई पार्टी के लिये रखे थे। यह रकम सभी अधिकारियों से इक्क्ठा की थी।

तहसीलदार ने यह भी बताया कि बचे हुए तीन लाख रुपए वह अर्पित नाम के शख्स से उधार लेकर आया था। एसीबी के अधिकारी अब इस मामले की भी जांच कर रहे है कि किस किस अधिकारी ने कलक्टर नकाते की विदाई पार्टी के लिए तहसीलदार लालाराम यादव को पैसे दिए थे और ऐसा करने के पीछे कारण क्या था।

बता दें कि लालाराम को एसीबी के पकड़ा, उससे एक दिन पहले ही कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते का रीको में कार्यकारी निदेशक के रूप में तबादला हुआ था। एसीबी एएसपी राजेंद्र नैन ने बताया कि पक्षकार से पैसे लेकर उन्हे फायदा पहुंचाने के मामले में जयपुर एसीबी ने दाे दिन पहले ही भीलवाड़ा तहसीलदार लालाराम, दलाल कैलाश धाकड़ और उसके बेटे व पक्षकार दीपक चौधरी को गिरफ्तार किया था। एसीबी ने लालाराम के घर से 5 लाख व दलाल कैलाश के घर से 12 लाख रुपए बरामद किए थे।

लालाराम ने एसीबी की टीम को बताया कि इन 5 लाख में से 2 लाख रुपए कलक्टर शिवप्रसाद एम नकाते के विदाई पार्टी के थे। जिन्हे सभी अधिकारियों से इक्क्ठा किया गया था। दूसरे तीन लाख रुपए वह उधार लाया था। इस मामले में अब एसीबी सभी अधिकारियों से पूछताछ करने की तैयारी कर रही है।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published.