bomb like thing exploded on the stage in presence of big BJP leaders including Mahesh Sharma


Image Source : TWITTER
Bomb-like thing exploded on BJP leaders’ stage

Highlights

  • जेवर में BJP नेताओं की सुरक्षा में बड़ी चूक
  • मंच पर अचानक बम जैसी वस्तु से हुआ धमाका
  • धमाके के बाद टेंट में लगी आग, मच गई भगदड़

Explosion at BJP Leaders’ Stage: उत्तर प्रदेश में गौतमबुद्ध नगर जनपद के जेवर कस्बे में स्थित प्राचीन दाऊजी मंदिर में रविवार रात परशुराम जन्मोत्सव के समापन कार्यक्रम में पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ महेश शर्मा सहित कई भाजपा के बड़े नेताओं की सुरक्षा में भारी चूक सामने आयी है। भाजपा नेताओं का कहना है कि मंच पर अचानक बम जैसी वस्तु से धमाका हुआ और टेंट में आग लग गई। इसके बाद वहां भगदड़ मच गई। शर्मा ने पुलिस आयुक्त आलोक सिंह को लिखित शिकायत दी है। 

मंचासीन थे बीजेपी के बड़े नेता

परशुराम मंदिर सेवा समिति ने भी पुलिस को लिखित शिकायत देकर मामले की जांच की मांग की है। अपर पुलिस उपायुक्त (जोन तृतीय) विशाल पांडे ने सोमवार सुबह को प्रेस को जारी एक वीडियो में कहा कि कस्बा जेवर में रविवार की रात को परशुराम जन्मोत्सव के समापन कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा सांसद डॉ महेश शर्मा, अलीगढ़ से सांसद पार्टी सांसद सतीश गौतम, विधान परिषद सदस्य श्री चंद शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष अमित चौधरी एवं पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मंचासीन थे। 

मंच की तरफ आ गिरा सुतली बम 

पांडे का कहना है कि आयोजकों ने इस मौके पर आतिशबाजी की और पुलिस के मना करने के बावजूद भी आतिशबाजी जारी रही। उनके अनुसार प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आतिशबाजी के दौरान मंच की तरफ सुतली बम आकर गिरा, जिसकी वजह से तेज धमाका हुआ और टेंट में आग लग गई। अपर पुलिस उपायुक्त ने बताया कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने जांच शुरू की है। उन्होंने बताया कि मौके पर खोजी कुत्ते दस्ते, बम निरोधक दस्ता तथा विधि विज्ञान की टीम को बुलाया गया है एवं जांच में अभी तक बम फटने जैसी कोई बात सामने नहीं आई है। 

धमाके के बाद मची भगदड़ 

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि समापन कार्यक्रम में महेश शर्मा, सतीश गौतम, श्री चंद शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष अमित चौधरी कार्यक्रम में पहुंचे थे। रात करीब दस बजे मंच पर टेंट में छेद करती हुई बम जैसी वस्तु गिरी और धमाका हो गया। अफरातफरी के दौरान सुरक्षाकर्मी डॉ. महेश शर्मा सहित जनप्रतिनिधियों को गाड़ियों में बिठाकर उन्हें लेकर चले गए। मंदिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा एवं महासचिव हेमंत मिश्रा की तरफ से पुलिस को लिखित शिकायत देते हुए घटना की जांच कर कार्रवाई की मांग की गई है। 

“…तो जान भी जा सकती थी”

डॉ महेश शर्मा ने कहा, ‘‘ हम मंचासीन थे और उसी समय बम जैसी कोई वस्तु टेंट पर गिरी और धमाका हो गया। इससे टेंट में भी आग लग गई। यदि वह वस्तु मंच पर बैठे किसी नेता के सिर पर गिरती तो जान भी जा सकती थी। सुरक्षा में यह बड़ी चूक है। इसकी शिकायत पुलिस कमिश्नर से कर जांच कराने की मांग की गई है।’’ श्री चंद शर्मा ने कहा कि यह कोई हादसा है या साजिश, यह जांच के बाद पता चलेगा, लेकिन बम जैसी वस्तु ने सुरक्षा चक्र को जरूर तोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि मंच के बराबर से कोई घातक वस्तु फेंकी गई और पुलिस को पता तक नहीं चला। 





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.