Bhadohi Video of conspiring murder of gyanpur MLA goes viral police takes two in custody


Image Source : FILE PHOTO
Gyanpur MLA Vipul Dubey

Highlights

  • विधायक विपुल दुबे की हत्या की साजिश
  • हत्या कराकर उपचुनाव कराने की थी योजना
  • वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस का एक्शन

Bhadohi: उत्तर प्रदेश के भदोही जिले की ज्ञानपुर विधानसभा सीट से निषाद पार्टी के विधायक विपुल दुबे की कथित तौर पर हत्या की साजिश का मामला सामने आया है। विधायक विपुल दुबे की हत्या कराकर इस क्षेत्र से उपचुनाव कराने की योजना का वीडियो वायरल हो गया। वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने शनिवार को दो लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने इसकी जानकारी दी। 

उपचुनाव के लिए MLA को मारने का प्लान

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार जिले में सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो का संज्ञान लिया गया जिसमें चार लोग ज्ञानपुर विधानसभा की बातचीत कर रहे हैं। भदोही पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अनिल कुमार ने बताया कि वायरल वीडियो में दिखाई दे रहे लोग सुपारी देकर एक व्यक्ति से ज्ञानपुर के विधायक विपुल दुबे की हत्या की योजना बना रहे हैं। उन्होंने बताया कि वीडियो में यह कहा जा रहा है कि इस सीट पर दोबारा चुनाव हो जायेगा जिससे मनमाफिक विधायक बन सकेगा। 

हिरासत में लिए गए दो लोग

कुमार ने बताया कि इस मामले का संज्ञान लेकर वीडियो में दिख रहे सोनू तिवारी और सद्दाम नाम के दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है। उन्होंने बताया कि दोनों ज्ञानपुर क्षेत्र के निवासी हैं। उन्होंने बताया कि यह वीडियो किसी के घर में विधायक को रास्ते से हटाने और पुनः चुनाव की बात करने का है जिसमें पैसे को लेकर एक महिला की भी आवाज़ सुनाई दे रही है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हिरासत में लिए गए व्यक्तियों से पूछताछ के साथ मामले की हर पहलू से जांच की जा रही है और वह खुद इसकी निगरानी कर रहे हैं। 

“ऐसे लोगों को ठीक कर दिया जाएगा”

ज्ञानपुर के निषाद पार्टी से विधायक विपुल दूबे ने कहा कि बीस साल तक इस विधानसभा में मारकाट होती रही है। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि जो व्यक्ति इस बार सफल नहीं हो सका जिसे जनता ने ख़ारिज कर दिया, ऐसे लोगों को योगी सरकार में ठीक कर दिया जाएगा। उल्‍लेखनीय है कि ज्ञानपुर विधानसभा क्षेत्र से तीन बार समाजवादी पार्टी के और एक बार निषाद पार्टी से कुल चार बार विधायक रहे विजय मिश्रा इस बार विधानसभा चुनाव में तीसरे स्थान पर थे। वह अपने एक रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी की संपत्ति हड़पने, उनकी फर्म पर पर कब्ज़ा करने और वाराणसी की एक गायिका से बलात्कार सहित कई मामलों में दो साल से आगरा की जेल में बंद हैं। 





Source link

Add a Comment

Your email address will not be published.